Happy Navratri 2019 Wishes महत्व,कलश स्थापना ,शुभ मुहूर्त ,पूजन विधि और शुभकामना संदेश

नवरात्रि का महत्व: नवरात्रि हिंदू धर्म का एक पर्व है जिसमें मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा की जाती है नवरात्रा की मान्यता है यह है कि मां दुर्गा स्वयं प्रकट होकर अपने भक्तों के कष्टों का निवारण करती है | 2019 के नवरात्रि पर्व की स्थापन 29 सितंबर 2019 से शुरू होकर 08 अक्टूबर 2019 तक चलेंगे  | नवरात्रि का त्यौहार संपूर्ण भारतवर्ष में बड़ी ही धूमधाम से मनाया जाता है |

 

Happy Navratri 2019 महत्व,कलश स्थापना ,शुभ मुहूर्त ,पूजन विधि और शुभकामना संदेश : Navratri 2019 kalash sthapana, Kalash Sthapana Puja Vidhi, Navratri Kalash Sthapana Muhurat Time, Kalash Sthapana Mantra in Hindi, Navratri kalash sthapana kab hai, Navratri sthapana 2019 date, Kalash sthapana muhurat 2019,

Happy Navratri 2018 Wishes, Images, Messages

नवरात्रि के नौ रातों में तीन देवियों – महालक्ष्मी, महासरस्वती या सरस्वती और दुर्गा के नौ स्वरुपों की पूजा होती है जिन्हें नवदुर्गा कहते हैं। इन नौ रातों और दस दिनों के दौरान, शक्ति / देवी के नौ रूपों की पूजा की जाती है।

नवरात्रि कब है 2019 में तथा किस दिन कौनसी देवी की पूजा होगी ..जाने 

नौ देवियाँ है :-

  • 29 सितंबर 2019 (रविवार) को प्रथम दिन शैलपुत्री की पूजा होगी। – इसका अर्थ- पहाड़ों की पुत्री होता है।
  • 11 सितंबर 2019 (सोमवार) को दूसरे दिन ब्रह्मचारिणी की पूजा होगी।- इसका अर्थ- ब्रह्मचारीणी।
  • 01 अक्टूबर 2019 (मंगलवार) को तीसरे दिन  चंद्रघंटा की पूजा होगी।- इसका अर्थ- चाँद की तरह चमकने वाली।
  • 02 अक्टूबर 2019 (बुधवार) को चौथे दिन कूष्माण्डा की पूजा होगी।- इसका अर्थ- पूरा जगत उनके पैर में है।
  • 03 अक्टूबर 2019 (गुरूवार) को पांचवें दिन स्कंदमाता की पूजा होगी।- इसका अर्थ- कार्तिक स्वामी की माता।
  • 04 अक्टूबर 2019 (शुक्रवार) को छठे दिन कात्यायनी की पूजा होगी। – इसका अर्थ- कात्यायन आश्रम में जन्मि।
  • 05 अक्टूबर 2019 (शनिवार) को सातवें दिन कालरात्रि की पूजा होगी।- इसका अर्थ- काल का नाश करने वली।
  • 06 अक्टूबर 2019 (रविवार) को आठवें दिन महागौरी की पूजा होगी।- इसका अर्थ- सफेद रंग वाली मां।
  • 07 अक्टूबर 2019 (सोमवार) को नौवें दिन सिद्धिदात्री  की पूजा होगी।- इसका अर्थ- सर्व सिद्धि देने वाली।
  • 08 अक्टूबर 2019 (मंगलवार) : दसवें दिन नवरात्र पारायण/ विजय दशमी

Navratri 29 अक्टूबर 2019 से हैं ,नवरात्र कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त और पूजन विधि:

Navratri 2019 kalash sthapana Puja Vidhi

29 अक्टूबर 2019 को माता दुर्गा के प्रथम रूप यानी के शैलपुत्री की पूजा से इस पर्व की शुरुवात होती है ।इस बार नवरात्रि पर कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त सुबह 6 बजकर 16 मिनट से लेकर 7 बजकर 40 मिनट तक है. इसके अलावा, आप दिन में भी कलश स्थापना कर सकते हैं, इसके लिए शुभ मुहूर्त दिन के 11 बजकर 48 मिनट से लेकर 12 बजकर 35 मिनट तक है। अगर आप घर में कलश स्थापना चाहते हैं तो अमृत योग का समय सबसे उतम समय है इस समय में आप अपने घर में कलश की स्थापना विधि विधान से कर सकते है।

नवरात्रि कलश स्थापना:

 Navratri 2019 kalash Sthapna muhurat Or Puja Vidhi

अपने घर में आप कलश की स्थापना करने के लिए सबसे पहले आप जौ को फर्श पर डालें और उसके बाद में कलश को जोऊ पर स्थापित करें । उसके बाद आप कलश पर स्वास्तिक का चिन्ह बनाएं तथा कलश पर मौली बाधकर उसमे पवित्र जल भर दे । कलश में अक्षत(चावल ) , साबुत सुपारी, फूल, पंचरत्न और सिक्का डाल दे ।

नवरात्रि कलश स्थापना मंत्र :

कलश स्थापना के लिए मंत्र इस प्रकार है….

1.

नमस्तेsतु महारौद्रे महाघोर पराक्रमे।।
महाबले महोत्साहे महाभय विनाशिनी  ।।

2.

ऊं श्रीं ऊं

3.

या देवी सर्वभूतेषु श्रद्धा रूपेण संस्थिता।
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।

Happy Navratri 2019 Wishes Images Messages

Happy Navratri 2019 Wishes Images Messages
Happy Navratri 2019 Wishes Images Messages

Here are some Happy Navratri 2019 Wishes, Images, Messages images, wishes, greetings, Whatsapp and Facebook messages that you can share with your friends and family during Navratri, Happy Navratri 2019 महत्व कलश स्थापना शुभ मुहूर्त पूजन विधि और शुभकामना संदेश

Happy Navratri 2019 Wishes, Images, Messages ,Happy Navratri 2019ImagesWishes, Whatsapp And Facebook Messages. #Navratri2019: The festival, which commenced today, Happy Navratri 2019: नवरात्रि पर भेजें ये शुभकामना संदेश, SMS और फोटोज

आपको पूरे परिवार सहित शारदीय नवरात्रियो / नौ दुर्गा की शुभकामनाएं

प्रथमं शैलपुत्री च द्वितीयं ब्रह्मचारिणी।
तृतीयं चन्द्रघण्टेति कूष्माण्डेतिचतुर्थकम्॥
पञ्चमं स्कन्दमातेति षष्ठं कात्यायनीति च
सप्तमं कालरात्रीति महागौरीति चाष्टमम्॥
नवमं सिद्धिदात्री च नव दुर्गाः प्रकीर्तिताः।
उक्तान्येतानि नामानि ब्रह्मणैव महात्मना॥
।।शक्ति स्वरूपा मां भगवती सबकी रक्षा करे।।


Lal Rang Ki Chunari Se Saja Maa Ka Durbaar,
Harshit Hua Main Pulkit Hua Sansaar,
Garbe Ki Masti, Khushiyon Ka Bhandaar,
Mubaarak Ho Aapko Navratri Ka Tyohaar.
Shubh Navratri!

Maa Durga aayi aapke sdwar, karke 16 shringaar,
aapke jeevan mein na aaye kabhi haar, hamesha rahe sukhi aapka ye parivaar.
Happy Navratri!

Happy Navratri 2019 महत्व कलश स्थापना शुभ मुहूर्त पूजन विधि और शुभकामना संदेश

Happy Navratri Wishes, Images, Whatsapp And Facebook Messages

May the brightness of Navratri
Fill your days with cheer
May all your dreams come true
During Navratri and all through the year
Wishing you all a very Happy Navratri!

Hey maa sherawali, mujhe iss navratri mein sirf ek cheez ki tamanna hai,
Jin jin ki aankhein ye pad rahi hain, unka daaman sada khushiyon se bharna..
Shubh navratri!

Be joyful and happy as lord Durga blesses us this Navratri. The festival will sure be filled with cheer and fun. A lovely day for everyone. Happy Navratri!

May this Navratri fill your life with the colours of happiness and prosperity. Wishing you and your family a very Happy Navratri!

Let the blessings of Maa Durga usher you,
On the eve of Durga Puja I pray to Goddess Durga to give bless you with good health and happy moments.
Happy Navratri!

I wish to Goddess Durga that remove your all troubles and sorrows.
Bring 9 colors of happiness in your life and all your wishes come true.
Happy Navratri!

Fortunate is the one who has learned to admire, but not to envy.
Good wishes for a Navratri filled with plenty of peace and prosperity.
Happy Navratri 2019!

Navratri 2019 Wishes Messages In Hindi

माँ दुर्गे, माँ अंबे, माँ जगदांबे, माँ भवानी, माँ शीतला, माँ वैष्णो, माँ चंडी, माता रानी मेरी और आपकी मनोकामना पूरी करे.जय माता दी.

माँ दुर्गा आपको अपनी 9 भुजाओं से :बल , बुद्धि , ऐश्वर्या , सुख , स्वास्थ्य , शान्ति , यश , निरभीखता , सम्पन्नता , प्रदान करें।

सारा जहां है जिसकी शरण में, नमन है उस माँ के चरण में, हम है उस माँ के चरणों की धूल, आओ मिलकर माँ को चढ़ाएं श्रद्धा के फूल। शुभ नवरात्रि.

या देवी सर्वभूतेषु शक्तिरूपेण संस्थिता. नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:.

Related Post:

Leave a Comment